हरदोई। पुरूषों की बराबरी एवं अधिक सशक्त बनने के लिए आर्थिक रूप से मजबूत बनना पड़ेगाः-वन्दना त्रिवेदी

  • महिलाओं को गलत व्यवहार एवं अत्याचार का डटकर मुकाबला करना चाहिए:- अलका गुप्ता
  • महिलायें सशक्त बनकर समाज की मुख्यधारा से जुड़े:- बुद्वि मिश्रा

हरदोई। गांधी भवन हाल में बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की ओर से कौमी सप्ताह के अन्तर्गत महिला सशक्तीकरण तथा कुपोषण दूर करने में महिलाओं की भागीदारी पर आयोजित कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि, भाजपा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष अलका गुप्ता ने दीप प्रज्जवलित कर किया।

इस अवसर पर उपस्थित महिलाओं को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि महिलाओं को सशक्त बनने के लिए स्वयं को मजबूत करना होगा और हर गलत व्यवहार एवं अत्याचार का डटकर मुकाबला करना चाहिए। उन्होने कहा कि महिलायें खुद को सशक्त रहने के लिए अपने आस-पास की गतिविधियों पर नजर रखते हुए घर-परिवार तथा समाज की मर्यादा को ध्यान में रखते हुए आगे बढकर अपने लक्ष्य को प्राप्त करें।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए वरिष्ठ अतिथि अपर जिलाधिकारी वन्दना त्रिवेदी ने कहा कि महिलायें घर में एक समय कई काम कर लेती है इसलिए हर महिला सशक्त है, परन्तु वर्तमान में महिलाओं को पुरूषों की बाराबरी करने एवं और अधिक सशक्त बनाने के लिए आर्थिक रूप से मजबूत बनना पड़ेगा। उन्होने कहा कि महिलायें अपने लड़के व लड़की में भेदभाव न करें और घर के काम दोनो से एक समान कराये और दोनो की शिक्षा पर विशेष ध्यान देकर उन्हें योग्य बनायें। एडीएम ने कहा कि महिलायें किसी प्रकार का उत्पीड़न सहन न करे बल्कि उसके खिलाफ आवाज उठाकर और महिलाओं को जागरूक होने का संदेश दें।

इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी ने मुख्य अतिथि, अपर जिलाधिकारी तथा अन्य महिला पदाधिकारियों सहित कार्यक्रम में उपस्थित सभी महिलाओं का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि महिलायें सशक्त बनकर समाज की मुख्यधारा से जुड़े। कार्यक्रम में महिला सशक्तीकरण कुपोषण के तहत उत्कृट कार्य करने वाली  अनीता पाण्डे, शारदा देवी, पल्लवी तथा दिव्या सचान को मुख्य अतिथि ने प्रशस्ती पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर सुहाना जैन, नेहा सिंह, चेतना शुक्ला एवं भारी संख्या में महिलाएं उपस्थित रही, कार्यक्रम का संचालन आलोकिता श्रीवास्तव ने किया।