हरदोई। सरकार की योजनाओं के तहत पात्रों को समय से ऋण देकर स्वरोजगार स्थापित करायेंः- जय प्रकाश

  • निरस्त आवेदन पत्रों की पुनः जांच कराये और योजनाओं से पात्र लोगों को लाभान्वित करायेः- अशोक

हरदोई। विकास भवन के स्वर्ण जयंती सभागार में बैंक आफ इंडिया की ओर से आहूत जिला सलाहकार समिति बैठक की अध्यक्षता करते हुए सांसद हरदोई जय प्रकाश रावत ने आर्यावत बैंक, स्टेट बैक, सेन्ट्रल बैंक आदि में गरीबों के रोजगार के लिए प्रधानमंत्री मुद्रालोन, प्रधानमंत्री/मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, स्वानिधि योजना, केकेसी तथा स्वयं सहायता समूहों की लम्बित ऋण पत्रावलियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए बैंक अधिकारियों को निर्देश दिये कि भारत एवं प्रदेश सरकार द्वारा गरीबों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने के लिए चलायी जा रही योजनाओं के प्राप्त ऋण आवेदनों को गम्भीरता से लेते हुए त्वरित ऋण उपलब्ध करायें।

बैठक में स्टेट बैंक के प्रतिनिधि की अनुपस्थित पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सांसद मिश्रिख अशोक रावत ने अपर जिलाधिकारी से कहा उक्त बैंक मैनेजर के खिलाफ नोटिस कर जवाब तलत करें और ऋण योजनाओं में लापरवाही करने वाले बैंक मैनेजरों के खिलाफ जिलाधिकारी के माध्यम से जीएम को पत्र प्रेषित करायें। उन्होने कहा कि बैंक अधिकारी दलालों पर रोक लगाये और विभिन्न योजनाओं के ऋण संबंधी निरस्त किये आवेदन पत्रों की पुनः जांच करें और पात्र लोगों को समय पर ऋण उपलब्ध कराये ताकि लाभार्थी समय पर स्वरोजगार संचालित कर सकें। इस अवसर पर सांसद हरदोई एवं मिश्रिख ने नावार्ड द्वारा वर्ष 2023-24 में विभिन्न योजनाओं के तहत ऋण पर आधारित पुस्तक का विमोचन किया।

बैठक में अपर जिलाधिकारी वन्दना त्रिवेदी, डीडी कृषि, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, जिला कृषि अधिकारी, उपायुक्त उद्योग केन्द्र, पीडी, डूडा एवं नावार्ड के अधिकारी सहित लीड बैंक मैनेजर व बैंकों प्रतिनिधि उपस्थित रहे।