हरदोई। आगामी पीढियों के लिए ऐसा पर्यावरण छोड़कर जाना चाहिए जिससे वे खुली व स्वच्छ हवा मे सांस ले सकेः-जय प्रकाश

  • वृक्ष लगाकर धरा का हरित श्रंगार करना सृष्टि के लिए अत्यन्त आवश्यक हैः-रामपाल वर्मा
  • जन प्रतिनिधियों ने अपने-अपने क्षेत्रों मे किया वृक्षारोपण

हरदोई। वृक्षारोपण जन आन्दोलन-2022 के अन्तर्गत आज जनपद के विभिन्न स्थानों पर जन प्रतिनिधियों द्वारा वृक्षारोपण कर जनपद वासियों को पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। विकास खण्ड बावन के ग्राम सहोरा मे सांसद हरदोई जय प्रकाश द्वारा पीपल, अमरूद, बरगद, पाकड़ व आम के पौधों का रोपण कर वृक्षारोपड़ स्थल पर 11000 पौधों के रोपण की शुरूआत की गयी तथा उपस्थित नागरिकों को वृक्षारोपण के प्रति प्रेरित किया गया। सांसद ने कहा कि हमे वृक्षारोपण कर आगामी पीढियों के लिए ऐसा पर्यावरण छोड़कर जाना चाहिए जिससे वे खुली व स्वच्छ हवा मे सांस ले सके। सभी लोगों को इस महा अभियान का हिस्सा बनना चाहिए। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वंदना त्रिवेदी, प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी रवि शंकर, ब्लाक प्रमुख बावन, जितेन्द्र सिंह व प्रदीप पाठक आदि उपस्थित रहें।

विधायक बिलग्राम-मल्लावां आशीष सिंह आशू ने नगर पालिका मल्लावां के अन्तर्गत कबरिस्तान अमृत वन मे अमरूद, कटहल, आम, गुलमोहर व बाटल ब्रश के पौधे का रोपण कर कुल 750 पौधों के रोपण की शुरूआत की उन्होंने बिलग्राम विकास खण्ड के अन्तर्गत हैबतपुर व घमोइया और मल्लावां विकास खण्ड के अन्तर्गत तेन्दुआ व मेहदी खेड़ा तथा माधौगंज विकास खण्ड के अन्तर्गत ग्राम क्योटी, ख्वाजगीपुर, दौलतयारपुर व पड़रा लखनपुर मे वृक्षारोपण किया तथा उपस्थित जन समुदाय को वृक्षारोपण के प्रति प्रेरित किया।

विधायक साण्डी प्रभाष कुमार ने सुरसा विकास खण्ड के अन्तर्गत मरसा ग्राम पंचायत के ग्राम जल्लामऊ मे स्थित वाटिका मे अमरूद, जामुन व नीबू के पौधों को लगाकर 500 पौधों के रोपण की शुरूआत की।

विधायक बालामऊ रामपाल वर्मा द्वारा ग्राम पंचायत रैसों की प्राईमरी पाठशाला मे स्थापित बालवन मे शीशम का पेड़ लगाकर 75 पौधों के रोपण की शुरूआत की। तथा ग्राम पंचायत समोदा की गौशाला मे शीशम व अमरूद का पेड़ लगाकर 250 पौधों के रोपण की शुरूआत की। उन्होंने कहा कि वृक्ष लगाकर धरा का हरित श्रंगार करना सृष्टि के लिए अत्यन्त आवश्यक है।

जनपद के अन्य सम्मानित जन प्रतिनिधियों द्वारा भी अपने-अपने क्षेत्रों मे इस महा अभियान मे हिस्सा लिया गया तथा लोगों को पर्यावरण संरक्षण के प्रति प्रेरित किया गया।