हरदोई। जिला पंचायत पर गुपचुप नीलामी का लगाया आरोप।

हरदोई। जिला पंचायत के जिम्मेदारों पर गुपचुप नीलामी कर खेत चहेतों को देने का आरोप लगाया है। आरोप लगाने वाले अभयराज, ऋषिकांत, राममिलन ने सीएम व डीएम को शिकायती पत्र देते हुए जिला पंचायत प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए। कहा फत्तेपुर गयंद गांव के जिला पंचायत के खेत की  नीलामी की तिथि छह जून तय की गई थी। जब वो लोग बोली लगाने पहुंचे तो चहेतों को खेत देने के लिए बोली टाल दी गई। दोबारा नीलामी की तिथि दस जून को एक बार फिर से बोली टाल कर 20 जून बोली नियत कर दी। 

आरोप लगाए वो लोग शाम पांच बजे तक मौजूद रहे पर उसके बाद राजनीतिक दबाव में एक ही परिवार के लोगों की आपस में बोली दिखा कर नीलामी लगा दी। हालांकि मामले की शिकायत के बाद एएमए जिला पंचायत ने फिर से बोली की तारीख 21 जून नियत कर दी पर अब फिर से पुरानी बोली को ही सही बताया जा रहा है। इस मामले में जिला पंचायत अध्यक्ष प्रेमावती के पति व प्रतिनिधि पीके वर्मा ने बताया बोली निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुए की गई है। कहीं पर कोई अनियमितता नहीं की गई। आरोप लगाने वाले लगभग 15 वर्षों से जिला पंचायत के खेतों पर कब्जा किए हुए थे। इसलिए झूठे आरोप लगा रहे हैं, मामले की जांच करवा कर 15 वर्षों में जिला पंचायत को हुई राजस्व क्षति की पूर्ति करवाई जाएगी।

आई एन ए हरदोई डेस्क