शाहाबाद\हरदोई। सांसद,विधायक और अधिकारी मस्त,जनता त्रस्त ।

.......... अघोषित बिजली कटौती से आमजन बेहाल,व्यापार कारोबार भी प्रभावित

शाहाबाद\हरदोई। नगरीय और आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में अघोषित कटौती जारी है।भीषण गर्मी में घंटों कटौती जले पर नमक छिड़कने का काम कर रही है। ऊपर से कटौती का कोई समय निर्धारित नहीं है। सुबह, दोपहर और शाम और रात्रि किसी भी वक्त कटौती की जा रही है। विद्युत उपभोक्ताओं ने बताया कि 24 घंटे में बमुश्किल 04 घंटे भी नियमित विद्युत आपूर्ति नहीं की जा रही है।

बाधित आपूर्ति के चलते क्षेत्रवासियों की दिनचर्या पर असर पड़ रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में कटौती की मार ज्यादा है। इससे फसलों की सिचाई से लेकर अन्य कार्य प्रभावित हो रहे हैं। समुचित मात्रा में नगर पालिका परिषद की पानी की टंकी से कपड़े और बर्तन धोने का पानी भी नहीं मिल रहा है। पालिका की टंकी का पानी पीने योग्य तो है ही नहीं। प्रायः पाइप लीकेज ,चक्का खराब,बाल्ब खराब का बहाना करके हफ्तों पानी न मिलने से लोग शाहाबाद पालिका के अधिकारियों को कोस रहे हैं।

तन झुलसाने वाली गर्मी के बीच दिन दिन भर बिजली कटौती से लोगों की परेशानी बढ़ गई है।विकास खण्ड शाहाबाद के ग्राम सिकंदर पुर कल्लू , रेलवे स्टेशन आंझी शाहाबाद, हुसेनापुर धौकल, ककरघटा, पूर्व पिपरिया,सफीपुर, गहोरा साहोरा आदि गांवों में कटौती से बुरा हाल है। घंटों रोस्टिग से व्यापार पर भी असर पड़ रहा है।व्यापार मंडल,व्यापार प्रकोष्ठ,व्यापार संगठन आदि ने बताया कि अनवरत बिजली कटौती से उद्योग व्यापार सब ठप सा हो गया है। बिना किसी सूचना रोजाना घंटों कटौती की जा रही है।विद्युत वितरण खंड शाहाबाद से जुड़े कई मोहल्लों के लोग पिछले डेढ़ महीने से बिजली की अघोषित कटौती से परेशान हैं। मोहल्ला नेकोजई, कटरा,बरुआ बाजार,चौक, माहीबाग, मौलागँज,वाजिद खेल,बुद्धबाजार सहित करीब पचास मोहल्लों के लोग विद्युत अधिकारियों को कोस रहे हैं। अघोषित कटौती के कारण खेतों में सिचाई नहीं हो पा रही है। 66 के वी विद्युत उपकेन्द्र आंझी शाहाबाद, 132 के वी विद्युत केंद्र आगमपुर और इस्लाम गंज फीडर से जुड़े क्षेत्रों में यह समस्या ज्यादा है। 24 घंटे में 20 घंटे रोस्टिग आम बात हो गई है। दिन में भी बिजली गायब रहती है। रात्रि में सिर्फ तीन से चार घंटे विद्युत आपूर्ति कर बिजली अभियंता अपने कर्तव्यों की इति श्री कर रहे हैं।शाहाबाद के उपभोक्ता अमित गुप्ता, धर्मेन्द्र,संजीव कुमार,सुनील ,गोपाल,सौरभ,आलोक,मिथलेश सहित अनेक उपभोक्ताओं का कहना है कि गर्मी बढ़ने के साथ ही नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों की विद्युत आपूर्ति व्यवस्था चरमरा गई है। बारिश हो नहीं रही है। पर्याप्त बिजली मिल जाए तो किसान कम से कम ट्यूबवेल चलाकर खेतों की सिचाई कर सकते हैं। ग्रामीणों ने बिजली विभाग के आला अधिकारियों से कटौतीमुक्त विद्युत आपूर्ति की मांग की है।वहीं विद्युत अधिकारियों का कहना है कि बिजली की रोस्टिग ऊपर से की जा रही है।फिलहाल अघोषित बिजली कटौती से आमजन परेशान हैं। क्षेत्र में हाहाकार मचा हुआ है। स्थानीय प्रशासन एवं जिला प्रशासन किंकर्तव्य विमूढ़ बना हुआ है।निरंकुश नौकरशाही और भ्रष्ट नाकारा जनप्रतिनिधियों से जनता जूझ रही है। 

बिजली उपभोक्ताओं ने आक्रोशित होते हुए कहा कि भाजपा सांसद जय प्रकाश,विधायक / उच्च शिक्षा मंत्री रजनी तिवारी उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ की शोभा बढ़ा रहे हैं।तहसील मुख्यालय पर तैनात अधिकारी जिला मुख्यालय पर निवास करते हैं और खुलेआम मुख्यमंत्री के दिशा निर्देशों का उल्लंघन कर रहे हैं।

आई एन ए हरदोई डेस्क