बेनीगंज: किसानों का धरना रहा जारी मामला ज्यों का त्यों रहा बना

बेनीगंज: विकासखंड कोथावां के अंतर्गत ग्राम पंचायत बेनीगंज देहात के गांव अल्लीपुर में 3 दिन से किसानों ने आवारा गोवंशों को गांव के बाहर बैरिकेडिंग में बंद कर रखा था।जिसमें पंचायत टीम व पुलिस प्रशासन की मदद से 200 गोवंशों में से 70 गोवंशों को नजदीकी ग्राम पंचायत के गौशालाओं में भेजवाया जा रहा था कार्य जारी था। 

शुक्रवार को स्थानीय कोतवाली प्रभारी निरीक्षक इंद्रजीत सिंह चौहान ने बंद आवारा गोवंशों का हाल हकीकत जानने के बाद शेष गोवंशों को पुलिस की मदद से छुड़वा दिया। जिससे गुस्साए किसानों द्वारा पुलिस में नोकझोंक भी हुई। मामले ने काफी तूल पकड़ लिया। तत्पश्चात किसानों ने वही मौके पर धरना जारी कर दिया। आनन फानन मे मौके पर पहुंचे क्षेत्रीय लेखपाल मनोज कुमार के द्वारा 100 फुट लम्बा और 100 फुट चौड़ा अस्थाई गौशाला के लिए पैमाइश कराई गई। 

इस संबंध में भारतीय किसान मजदूर यूनियन दशहरी संगठन के जिला अध्यक्ष किसान नेता पुनीत मिश्रा ने बताया कि उक्त गोवंशों को स्थानीय कोतवाल के द्वारा छुड़वा दिया गया और किसानों के साथ अभद्रता की गई। जब उक्त मामले के बारे में स्थानीय कोतवाल से जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया कि आवारा गोवंश 3 दिन से भूखे प्यासे तड़प रहे थे। जिससे कि गोवंश परेशान हो रहे थे। जबकि मौके पर गौवंशो को खाने के लिए पायर की व्यवस्था थी। 

माहौल को ज्यादा गर्म देखते हुए मौके पर टडियावा पुलिस भी पहुंची। उप जिलाधिकारी संडीला के आने के अंदेसे में देर शाम तक किसान अपने धरना स्थल पर बैठे रहे। समाचार के लिखे जाने तक मामला ज्यों का त्यों बना रहा। इस धरना में भाकिमयू जिला अध्यक्ष हरदोई पुनीत मिश्रा,तहसील अध्यक्ष संडीला ठाकुर सत्येंद्र सिंह, अर्पित गुप्ता, रामचंद्र वर्मा, रामखेलावन व राम नरेश मिश्रा सहित सैकड़ों किसान मौजूद रहे।


प्रदीप सिंह
आईएनए हरदोई डेस्क