हरदोई। शिशु मंदिर में मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर हुआ गोष्ठी एवं खिचड़ी भोज का आयोजन

हरदोई। विद्या भारती द्वारा संचालित तारागाँव के जय श्री बालाजी सरस्वती शिशु मन्दिर विद्यालय में आज मकर संक्रान्ति का पर्व बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया  जिसमें विद्या भारती के प्रधानाचार्य एवं आचार्य बंधु, विद्यालय समिति के सदस्य अभिभावक बन्धु, एवं विद्यालय के भैया/बहन उपस्थित रहे। समस्त उपस्थित अतिथि गण एवं विद्वत जनों ने विद्या की देवी माँ शारदे का दीप प्रज्वलन कर गोष्ठी का प्रारंभ किया समस्त विद्वत जन एवं अतिथि गणों का बहनों ने माल्यार्पण कर रोली तिलक किया।

इस मौके पर प्रमुख वक्ता के रूप में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह खंड कार्यवाह विनय वाजपेयी ने विद्यालय प्रांगण में उपस्थित समस्त अतिथि गणों एवं अभिभावक तथा भैया/बहनों को मकर सक्रांति के पावन पर्व की बधाई एवं  शुभकामनाएँ देते हुये कहा कि आइये हम सब इस पावन पर्व पर तिल केे समान बिखरे पूरे समाज को,गुड़ के समान अपने मीठे  व स्नेहपूर्ण व्यवहार से संगठित करते हुए भारतमाता की सेवा एवं अखण्डता की रक्षा करते हुए उसे पुनः परम वैभव पर स्थापित करने का संकल्प लें। 

वाजपेयी नें बताया कि पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, मकर संक्रांति के दिन ही गंगा जी भगीरथ के पीछे लेकर कपिल मुनि के आश्रम से होते हुए सागर में मिल गई थीं, इसीलिए मकर संक्रांति को गंगा स्नान का विशेष महत्व होता है। उन्होनें बताया कि आज के दिन दान में गुड़, काले तिल, खिचड़ी, कंबल और लकड़ी का विशेष दान होता है। गोष्ठी का समापन होनें के बाद खिचड़ी भोज का कार्यक्रम हुआ जिसमें सभी भैया/बहिनों, अतिथिगण, प्रधानाचार्य, एवं आचार्यों तथा अभिभावक बन्धुओं ने खिचड़ी भोज किया।

इस मौके पर विद्यालय के प्रबन्धक दिनेश चन्द्र वाजपेयी, विद्यालय समिति के सदस्य बृजेन्द्र पाल सिंह, गुड्डू सिंह, प्रधानाचार्य धर्मेन्द्र सिंह, आचार्य प्रेमपाल, मोहित कुमार, उमाशंकर, एवं ग्राम तारागाँव के प्रधान प्रतिनिधि अमर सिंह, अभिभावक उमाशंकर मिश्रा, अमित यादव, अनंत पाठक शुशील यादव, छुटकुन्नू पाठक, विनोद, सतीष कुमार, काशी कुमार, सुनील कुमार मिश्रा, रघवीर, प्रदीप सिंह, गुड्डू, श्यामू मिश्रा, सुनील गुप्ता, राठौर, इंद्रजीत, सुरजीत कुमार, आदित्य गुप्ता, रामबाबू, मोनू राठौर, सुमित राठौर, रोहित राठौर, आलोक शर्मा अवनीश कुमार तथा कई अन्य तारागाँव, कैंमी, चकढकिया, करौंदीं, सुंदरपुर, अन्तोरा, धनवार, चठिया, सढ़वापुर, परसही आदि ग्रामों के लोग उपस्थित रहे।


आईएनए हरदोई डेस्क